आप की रसोई में पड़ा ये पत्ता है चमत्कारी औषधी, आइये जानें

149

तेजपात एक ऐसा पत्‍ता है जो हर घर में मिल जाता है। मसाले में इसका प्रयोग होता है। इसे अंग्रेजी में Bay leaf कहते हैं। सब्ज़ी व दाल को यह स्‍वादिष्‍ट बनाने की क्षमता रखता है। लेकिन इसमें अनेक औषधीय गुण भी विद्यमान भी होते हैं। सर्दी-ज़ुक़ाम, नज़ला, खांसी, अतिसार, दमा सहित अनेक रोगों में यह अत्‍यंत लाभकारी है।

तेजपात के स्वास्थ्य लाभ

जूं नाशक
तेजपात जूं नाशक हैं। इसके पांच-छह पत्‍ते लें और एक गिलास पानी में उबालना शुरू करें। जब पानी आधा बचे तो आग से उतार लें और ठंडा होने पर इससे सिर की मालिश करें। मालिश करने के कुछ देर बाद नहा लें। इससे सिर के जुएं तो मर ही जाते हैं और नए पनपने भी नहीं पाते। सिर के जुओं को ख़त्म करने का यह एक अचूक घरेलू उपाय है।डायबिटीज के लिए तेजपत्ता / Home Remedies for Diabetesडायबिटीज शुगर ग्रसित व्यक्ति के लिए तेजपत्ता अचूक प्राकृतिक औषधि है। तेजपत्ता को पाडडर बनाकर कांच की शीशी में रख लें। शुगर लेवल बढ़ने पर तुरन्त 2 चम्मच तेजपत्ता का पाउडर 1 गिलास पानी में उबाल कर छान कर सुबह, दोपहर, शाम सेवन करने से डायबिटीज शुगर लेवन नियत्रंण में रहता है। तेजपत्ता गाढ़ा पीने के 1 घण्टे तक कुछ खायें पीयें नहीं।

जुकाम खांसी में तेजपत्ता
तेजपत्ता का पाउडर बनाकर कांच की शीशी में रखें। जुकाम, खांसी लगने पर आधा चम्मच तेजपत्ता पाउडर 1 चम्मच शहद के साथ घोलकर चाटने से जुकाम खांसी तुरन्त ठीक हो जाती है।

सरदर्द में तेजपत्ता
तेजपत्ता बारीक पीसकर पाउडर बना लें। जब भी सरदर्द की समस्या हो, तुरन्त लेप सिर, माथे दर्द ग्रसित पर लगाने से शीध्र आराम मिलता है।

गर्भस्त्राव, बांझपन में तेजपत्ता
औरतों में गर्भ न ठहरना, बांझपन को दूर करने में तेजपत्ता सक्षम है। पीरियड से 1 5-6 दिन पहले से लगातार पीरियड 5-6 दिन बाद तेजपत्ता गाढ़ा सेवन करने से समस्या से निदान मिल जाता है। इस से औरतों के गर्भाशय में शिथिलता की समस्या दूर हो जाती है और गर्भधारण में आसानी रहती है। लगातार पीने से गर्भस्त्राव से मुक्ति मिलती है। गर्भ ठहर जाता है।

रक्तस्त्राव रोकने में तेजपत्ता
नांक, नकसीर, मूत्र, मलद्वार के रास्ते खून आने की समस्या से निजात के लिए तेजपत्ता सक्षम है। 1 चम्मच तेजपत्ता पाउडर को 1 गिलास पानी में घोलकर 4 घण्टे बाद पीने से रक्तस्त्राव से निजात मिलता है। लगातार 20-25 दिनों तक पीने से रक्तस्त्राव की समस्या से छुटकारा मिलता है।

दिमाग स्मरण शक्ति के लिए तेजपत्ता
तेजपत्ता दिमाग स्मारण शक्ति बढ़ाने में सक्षम है। तेजपत्ता का उपयोग सेवन रोज खाने में जरूर करें। तेजपत्ता दिमाग के भुलाने वाले एसिटिलकोलाइनैस्टेटो को रोकता है। जिससे दिमाग ज्यादा सक्रीय और स्मरण शक्ति तीव्र हो जाती है।

दांत चमकाये तेजपत्ता
दांतों में पीलापन दूर करने के लिए तेजपत्ता का पाउडर से लगातार मंजन करें। दांतों में नेचुरल चमक आती है। तेजपत्ता दांतों के लिए प्राकृतिक मंजन है।

दिल स्वस्थ रखे तेज पत्ता
दिल के मरीज के लिए तेज पत्ता हार्ट वहिकाओं को सुचारू रखने में सहायक है। तेज पत्ता रसोई में इस्तेमाल करें।

अस्थमा में तेज पत्ता
मरीज के लिए तेज पत्ता, अदरक, हल्दी बीरीक पीसकर फंक गुनगुने पानी के साथ सेवन करना फायदेमंद है।

उच्चरक्तचाप में तेज पत्ता
हाई ब्लप्रेशर तुरन्त नियंत्रण करने के लिए 1 चम्मच तेजपत्ता पाउडर नींबू रस के साथ सेवन करना फायदेमंद है।

कुछ अन्‍य प्रयोग
एक बर्तन में तेज पत्तें को रख के जला लें ध्यान रखें की घर के खिडक़ी व दरवाजे बंद कर लें और दस मिनट के लिए बाहर जाएं फिर वापस आएं तो आप बहुत अच्छा महसूस करेंगे। तेज पत्ते में कुछ तत्व होते हैं जब हम इनको जलाते हैं तो ये हवा में मिल जाते हैं।

पेट फूलने व अतिसार में तेजपात के पत्तों का काढ़ा लाभ पहुंचाता है।

दो से चार ग्राम चूर्ण पानी के साथ लेने से उबकाई से छुटकारा मिलता है

नियमित भोजन में इसका प्रयोग से कभी हृदय रोग नहीं होंगे और हृदय मजबूत बना रहेगा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf