मुख्यमंत्री की आज ताहल गु्रप के सीईओ और अन्य अधिकारियों के साथ विस्तृत वार्ता के दौरान सहमति बनी।

28
Chandigarh Aone News/ Dinesh Bhardwaj : 9 मई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के आग्रह पर अपशिष्ट जल प्रबंधन, सूक्ष्म सिंचाई और आधारभूत संरचना जैसे विभिन्न क्षेत्रों में विशेषज्ञता प्राप्त इजराइल का ताहल गु्रप गांवों में पानी की अधिकता वाले 8,000 तालाबों के पुनरूद्घार, अपशिष्ट जल की रिसाइकलिंग और शोधन के उपरांत सिंचाई के लिए इसका उपयोग करने जैसे मुद्दों के समाधान खोजने में मदद करने के लिए शीघ्र ही विशेषज्ञों की एक टीम हरियाणा भेजने को सहमत हो गया है।
मुख्यमंत्री की आज तेल अवीव में ताहल गु्रप के सीईओ और अन्य शीर्ष अधिकारियों के साथ विस्तृत वार्ता के दौरान यह सहमति बनी। अपशिष्ट जल प्रबंधन, सूक्ष्म सिंचाई और बुनियादी ढांचे के क्षेत्र में अग्रणी कंपनी, ताहल ग्रुप का मुख्यालय गुरुग्राम में है और पूरे भारत में मेगा परियोजनाएं चला रहा है।
ताहल विशेषज्ञ विभिन्न विभागों का दौरा करेंगे और हरियाणा सरकार का जल प्रबंधन की मास्टर प्लानिंग के लिए मार्गदर्शन करेंगे। भारत के प्रति आशावान ताहल गु्रप दुनिया भर के विकासशील देशों में टिकाऊ आधारभूत संरचना विकास परियोजनाओं के क्षेत्र में अग्रणी वैश्विक प्रदाता है।
ताहल 20 से अधिक वर्षों से भारत में काम कर रहा है। पूरी तरह से भारतीयों द्वारा प्रबंधित, ताहल भारत में जलवायु परिवर्तन, खाद्य सुरक्षा, स्वच्छ जल, स्वच्छ ऊर्जा और टिकाऊ विकास से संबंधित परियोजनाओं पर काम करता है और कई परियोजनाओं पर परामर्श प्रदान करता है।
यह ग्रुप झारखंड में पेयजल परियोजना, कर्नाटक में पेयजल पाइपलाइन परियोजना, मध्यप्रदेश में उठान सिंचाई परियोजना, बेंगलुरू में पेयजल परियोजना और राजस्थान से पानीपत तक गैस पाइपलाइन परियोजना पर पहले ही परामर्श दे रहा है।
प्रमाणित अंतरराष्टï्रीय अनुभव, विशेषज्ञ जानकारी और व्यापक उद्योग साझेदारी का लाभ उठाते हुए यह जल संसाधन प्रबंधन, अपशिष्ट जल उपचार, एकीकृत कृषि विकास, ठोस कचरा प्रबंधन और प्राकृतिक गैस के क्षेत्र में भी कार्य कर रहा है और लागत प्रभावी समाधान क्रियान्वित करता है जो ग्राहक आवश्यकताओं को पूरा करते हैं।
       ताहल केवल सरकारों के साथ कार्य करता है। 1952 में स्थापित इस गु्रप ने दुनिया भर में 60 से अधिक देशों में सरकारों, नगर पालिकाओं, सार्वजनिक संगठनों और निजी निगमों के लिए सैकड़ों परियोजनाओं को सफलतापूर्वक कार्यान्वित किया है।
क्रमांक-2018
चंडीगढ़, 9 मई- हरियाणा सरकार का करनाल हवाई अड्डïे के नवीनीकरण के लिए जिला करनाल में इस हवाई अड्डïे के साथ लगती 280 एकड़, 7 कनाल, 3 मरला भूमि को स्वैच्छिक आधार पर खरीदने का प्रस्ताव है।
नागरिक उड्डïयन विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि इस भूमि के मालिक,जो अपनी भूमि को स्वैच्छिक आधार पर बेचने के इच्छुक हैं, यह विज्ञप्ति प्रकाशित होने के एक मास के भीतर उपायुक्त करनाल के कार्यालय में सम्पर्क कर सकते हैं।
उन्होंने बताया कि भूमि से संबंधित विस्तृत जानकारी विभाग की वैबसाइट www.haraviation.gov.in पर उपलब्ध है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf