‘सांझी सोच’ : नई कलम काव्य मंच की मासिक गोष्ठी में बही कविताओं की ब्यार

145

Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj : नई कलम काव्य मंच द्वारा आयोजित मासिक काव्य गोष्ठी का आयोजन राजीव कॉलोनी स्थित बंसी विद्या निकेतन स्कूल के सेमीनार हॉल में किया गया। इस मासिक काव्य गोष्ठी में बतौर मुख्य अथिति पधारे सहायक जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी मुकेश धामा ने दीप प्रजव्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता शायर अब्दुल रहमान मंसूर ने की। इसके साथ ही सुरेंदर नारायण शर्मा ने माँ सरस्वती की वंदना कर काव्य गोष्ठी का आगाज़ किया। नई कलम काव्य मंच के संयोजक मंडल की तरफ से मुख्य अथिति मुकेश धामा एवं मंच पर विराजमान डॉ. राजेश खुशदिल, अजय अज्ञात, डॉ. अशोक मधुप एवं शायर अब्दुल रहमान मंसूर को फूलमाला पहनाकर स्वागत किया गया।

काव्य गोष्ठी में बतौर विशिष्ट अथिति पधारे डॉ. अशोक मधुप ने शानदार कविता पाठ कर सभागार में खूब तालिया बटोरी। वहीँ डॉ. राजेश खुशदिल ने अपनी ग़ज़ल से मंच को गंगनचुंबी ऊंचाई प्रदान कर तालियों के साथ-साथ वाह-व्हाई का महोत्सव उत्पन्न कर दिया। इसके साथ ही कवि अजय ‘अज्ञात’ ने बहुत ही उम्दा शायरी के साथ राजनैतिक कटाक्ष कर सभी को रोमांचित कर दिया। काव्य गोष्ठी में मातृशक्ति स्वरूप उपस्थित कृष्णा दामिनी ने नारी की शक्ति का बहुत ही मार्मिक वर्णन करती हुई कविता सुनाकर सभी के मन में मातृ भाव जागृत कर दिया।

इसके साथ ही डॉ. बांके बिहारी, मनोज मनमौजी, संजय तन्हा, एम. एल. गर्ग, अंजलि सरदाना, देवेंद्र देव, कुमार देवेंद्र, यशदीप कौशिक, मोहन शास्त्री, अजय अक्स, लज्जाराम राघव “तरुण”, सत्यनारायण भारद्धाज, विपिन कुमार, यशपाल मस्ती, शिवशंकर उपाध्याय, अतुल द्धिवेदी एवं मुदगल सौरभ ने देश, काल, वातावरण और वर्तमान परिपेक्ष्य पर अपनी अपनी प्रस्तुति से समां बाँधा। कार्यक्रम में ग्रेटर नॉएडा मिडिया प्रभारी भगवत प्रसाद शर्मा एवं फरीदाबाद भाजपा जिला उपाध्यक्ष सतीश शर्मा भी मौजूद रहे।

‘सांझी सोच’ राष्ट्रीय मासिक पत्रिका का हुआ विमोचन

नई कलम काव्य मंच द्वारा आयोजित काव्य गोष्ठी में कविता पाठ के बाद सम्मानित मंच पर विराजमान साहित्य जगत के बड़े हस्ताक्षरों द्वारा हिसार से प्रकाशित राष्ट्रीय मासिक पत्रिका “सांझी सोच” का विमोचन किया गया। पत्रिका के सम्पादक राजेश चुघ के अनुसार इस पत्रिका में समाज के विभिन्न रूपों एवं वर्गों के लिए बहुत ही रोचक जानकारी के साथ-साथ साहित्य की विभिन्न विधाओं का भी समावेश देखने-पढ़ने को मिलेगा। इसके साथ ही पाठक अपनी साहित्यिक रचनाओं को भी सम्पादक के पास प्रकाशन हेतु भेज सकते हैं।

कार्यक्रम के अंत में कवि सुरेंद्र नारायण शर्मा ने सभी का हार्दिक आभार प्रकट करते हुए धन्यवाद ज्ञापन किया और राष्ट्रगान के साथ इस शानदार काव्य गोष्ठी का समापन किया गया। काव्य गोष्ठी का मंच संचालन मुदगल सौरभ ने किया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf