फरीदाबाद एनसीआर में शुरू होगा भारत का पहला डिजिटल मॉल

68

Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj :13th मार्च/2018 भारत का पहला डिजिटल मॉल फरीदाबाद में जल्द ही शुरू होगा। मॉलिडेज इंफोटेक प्राइवेट लिमिटेड ने फरीदाबाद, दिल्ली,गुरूग्राम, नोएडा, गाजियाबाद, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, चेन्नई, कोयम्बटूर, अहमदाबाद, लखनऊ, भुवनेश्वर, मैसूर, मंगलोर, पुणे, चंडीगढ़, देहरादून, जयपुर, और लुधियाना सहित २० भारतीय शहरों में डिजिटल मॉल ऑफ इंडिया शुरू करने की पूरी तैयारी कर ली है। डिजिटल माल के लिए पंजीकरण शुरू हो चुके हैं जिसकी सारी जानकारी वेबसाइट से प्राप्त की जा सकती है.

फरीदाबाद के होटल डिलाइट ग्रांड में एक संवाददाता सम्मेलन में मॉलिडेज इंफोटेक प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री ऋषभ मेहरा ने कहा, ‘‘हमें यह घोषणा करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि हम जल्द हीएनसीआर में फरीदाबाद से डिजिटल मॉल ऑफ इंडिया शुरू करेंगे। साल दर साल ५० -६० प्रतिशत की स्थिर दर से बढ़ रहे भारतीय ई-टेलिंग बाजार के २०२० तक सकल मर्चेंडाइज मूल्य (जीएमवी) में ८० -१०० अरब डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है। मुझे पूरा विश्वास है कि ई-कॉमर्स रिटेल का भविष्य है और यह भारत में विशेष रूप से बड़ी भूमिका निभाएगा। ४०० मिलियन से अधिक के इंटरनेट यूजर के बेस के साथ भारत इंटरनेट इस्तेमाल के मामले में तीसरे नंबर पर है, जबकि अमेरिका और चीन पहले व दूसरे नंबर पर हैं. । ई-कॉमर्स को इन अवसरों के बावजूद भी कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ता है जिनमें बाजार से मिली जगह पर लगाए गए भारी कमीशन, कार्यशील पूंजी के मुद्दों के लिए नकद भुगतान के निपटारे में देरी, एक ही श्रेणी के लिए कई आपूर्तिकर्ता के होना आदि प्रमुख हैं। इनके अलावा रिटर्न, डिलीवरी में अधिकसमय लगना, आत्मीयता की कमी आदि के कारण पारंपरिक रसद की तुलना में अधिक लागत, सभी श्रेणियों और स्थानों पर डिलीवरी पर भुगतान की सुविधा उपलब्ध नहीं होने, नकली उत्पादों, ऑनलाइन आपूर्तिकर्ताकी ऑफलाइन उपस्थिति नहीं होना भी शामिल है। डिजिटल मॉल आॅफ इंडिया लगभग उन सभी समस्याओं का समाधान करता है जिनका सामना ऑनलाइन शॉपिंग में करना पड़ता है।

श्री ऋषभ मेहरा ने कहा, ’’डिजिटल मॉल की अभिनव अवधारणा के तहत कोई भी व्यक्ति ई- शॉप को खरीद सकता है और किराए पर ले सकता है, और यह अवधारणा निवेश विकल्प में एक नया आयाम जोडेगा।रिटेल इस्टेट में निवेश हमेशा स्कैनर के तहत आता है। साथ ही साथ निवेष आंकड़े पर कम लाभ मिल रहा है और ऐसे परिदृश्य में डिजिटल रियल एस्टेट में निवेश की अवधारणा आकार ले रही है। प्रत्येक शहर मेंन्यूनतम ५००० दुकानों वाला एक अलग मॉल होगा। हमने नोएडा मॉल में ५०० करोड़ की कुल इंवेट्री के साथ डिजिटल दुकानों को बिक्री के लिए खोला है। प्रत्येक मॉल में विशिष्ट खुदरा दुकानें, हाइपर मार्केट, फूडकोर्ट, डिजीपलेक्स, ऑनलाइन क्लब और एक गेमिंग जोन होंगे।

मॉलिडेज इन्फोटेक प्राइवेट लिमिटेड के बारे में: दिसंबर २०१६ में स्थापित, मॉलिडेज इंफोटेक प्राइवेट लिमिटेड का उद्देश्य एक प्रगतिशील और दक्ष कंपनी के रूप में खुद को स्थापित करना है जो नए उत्पादों और व्यवसाय मॉडल विकसित करने के लिए डिजिटल अवसरों का आष्चर्यजनक रूप से इस्तेमाल करता हो।

डिजिटल मॉल ऑफ़ इंडिया के बारे में: डिजिटल मॉल ऑफ इंडिया ऑफ़ लाइन और ऑनलाइन दुनिया को एक साथ लाता है। ऑफलाइन मॉल में शॉपिंग का अनुभव अलग होता है जहां अलग- अलग ब्रांड्स की अलग – अलग दुकानें होती हैं जबकि ऑनलाइन शॉपिंग में यह सुविधा होती है कि यहां हमें किसी भी समय और कहीं भी खरीरदारी करने के लिए असीमित विकल्प और लाभ मिलते हैं । एक ही पोर्टल का हिस्से होने के बावजूद शहर में प्रत्येक मॉल अलग होते हैं । इसे ब्रांडों के रुतबे को बनाये रखने के लिए एक स्केलेबल, मजबूत, सुरक्षित और विश्वसनीय तकनीक पर विकसित किया गया है।

यह उन निवेशकों के लिए बहुत ही अच्छा अवसर प्रदान करता है जो डिजिटल शॉप खरीदते हैं, क्योंकि उन्हें पहले महीने से मासिक किराया मिलता है। विक्रेताओं के लिए जो डिजिटल शॉप किराए पर लेते हैं, उन्हें उसी दिन पूरे शहर मंे अपने ब्रांड/श्रेणी को बेचने के विशेष अधिकार मिलते हैं। जबकि खरीदारों को अपने स्थानीय विक्रेताओं से अच्छे सौदे करने का मौका मिलता है क्योंकि यह शून्य कमीशन/शून्य राजस्व शेयर करने वाला मॉडल है जो डिलीवरी के 24 घंटे के भीतर किसी भी बाजार में एक ही विक्रेता द्वारा बेचे गये उत्पाद को सस्ता बना देगा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf