दिन कभी ऐसे भी आएंगे ये मालूम न था

311
Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj :कल रात विजय रामलीला के इतिसिक मंच पर हुआ श्री राम को बनवास। प्रथम दृश्य में मन्थरा  द्वारा कौकयी की बुद्धि हर लेने का दृश्य दिखाया गया जिसमें कैकयी बने नितिन शर्मा और मन्थरा बने सुरिन्दर सराफ ने जम कर सम्वाद किया। अगले दृश्य में कोप भवन में बैठी कैकयी ने दशरथ से मांगे अपने दो वरदान। तीसरे दृश्य ने सबको भाव विभोर कर दिया जिसमें राम (सौरभ कुमार) ने कौशल्या (वैभव लरोइया) से ली विदाई। दशरथ की भूमिका में नज़र आये कमेटी के पूर्व निर्देशक संजय अरोड़ा। जिनके अभिनय से दर्शकों की आंखे हुई नम। बनवास के मनोरम दृश्य को सजीव करने के लिए संगीत विभाग से विश्वबन्धु शर्मा जी द्वारा लिखा व गाया गया गाना दिन कभी ऐसे भी आएंगे ये मालूम न था, एक एक कर के बिछड़ जाएंगे मालूम न था, जिसने पधारे सभी दर्शकों के दिलो को मार्मिक कर दिया। आज इसी मंच से दिखाया जाएगा दशरथ का राम वियोग में स्वर्गवास और भरत प्रसंग दिखाया जाएगा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf