पाकिस्तान में हिंदू नाबालिग लड़की के साथ जो हुआ उसे जानकर आप गुस्से से पागल हो जाओगे

https://youtu.be/maQ5e2yG9Xs

603

नई दिल्ली :  पाकिस्तान में एक हिंदू लड़की के जबरन धर्मांतरण किये जाने की घटना सामने आई है. इस घटना के बाद पाकिस्तान में हिंदुओं में नाराज़गी है. पाकिस्तान के थार जिले में एक नाबालिग हिंदू लड़की का कुछ लोगों ने कथित तौर पर अपहरण कर उसका धर्मांतरण करा दिया. थार जिले के नागरपाकर इलाके के निकट वनहारो गांव के सैयद समुदाय के लोगों ने 16 वर्षीया रविता मेघवार को कथित तौर पर छह जून को अगवा कर लिया था.

इन लोगों ने अपने समुदाय के एक लड़के से इस लड़की की जबरन शादी भी करवा दी है. लड़की अपने ‘पति’ नवाज अली शाह के साथ उमरकोट में स्थानीय पत्रकारों से मिली और उसने इस्लाम कबूलने और शादी, दोनों में अपनी रजामंदी की ‘जानकारी’ दी. उसने दावा किया कि उमरकोट जिले में समारो कस्बे के निकट एक मौलवी की उपस्थिति में उसने इस्लाम कबूल किया है.

लड़की ने शुक्रवार को इस्लामकोट में एक बार फिर पत्रकारों के समक्ष दावा किया कि उसे अगवा नहीं किया गया था, बल्कि वह शाह के साथ भाग गई थी। उसने खुद के लिये और अपने पति के लिए सुरक्षा की मांग भी की. लेकिन, लड़की के परिवार सहित हिंदू समुदाय ने जोर दिया है कि उसे अगवा किया गया और जबरन धर्मांतरण कराया गया.

वहीं मौलवी की तरफ से जारी शादी के प्रमाण पत्र के मुताबिक, ‘लड़की की उम्र 18 साल है और उसने अपनी मर्जी से शादी की है, उसका इस्लामिक नाम ‘गुलनार’ रखा गया है. पाकिस्तान मुस्लिम लीग-(नवाज) पार्टी के थार के सांसद और पाकिस्तान हिंदू काउंसिल के प्रमुख रमेश कुमार वंकवानी ने रविता के कथित अपहरण और धर्मातरण पर चिंता जताई है. उन्होंने कहा, ‘हिंदू विवाह अधिनियम के मुताबिक, 18 साल से कम आयु की हिंदू लड़की का धर्मातरण नहीं किया जा सकता है.’

#AONENEWSTV [edited by:  मुकेश उपाध्याय]

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf