रोड सेफ्टी के लिए ऑनलाइन हुए फस्र्ट एड सर्टीफिकेट

0
120

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 22 सितम्बर। जिले में बेसिक रोड सेफ्टी के लिए ऑनलाइन फस्र्ट एड सर्टिफिकेट दिये जाने का कार्य आज से शुरू हो गया। लर्निंग व हैवी दोनों तरह के ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए फस्र्ट एड की कक्षा लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन ही किया जाएगा तथा प्रतिभागी सर्टीफिकेट की वेबसाइट पर जाकर स्वयं जांच भी कर सकेगा।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में पिछले काफी समय से लर्निंग व हैवी ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने से पहले फस्र्ट एड की कक्षा आवश्यक की हुई हैं। ये इसलिए किया गया है ताकि सडक़ हादसों को कम किया जा सके। बहुत से लोगों को फस्र्ट एड की जानकारी नहीं होने पर सडक़ हादसे में वह लोगों की और स्वये की मदद नहीं कर पा रहे थे। इसी संदर्भ में विगत दिनों महामहिम राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य की अध्यक्षता में बैठक हुई थी जिसमें गौरमवयी उपस्थिति मुख्यमंत्री मनोहर लाल की रही तथा बैठक में रेडक्रास सोसायटी के महासचिव डीआर शर्मा तथा जिला उपायुक्त यशपाल समेत प्रदेशभर के उपायुक्तों ने शिरकत की थी, उसी में उक्त फैसला लिया गया। आज रेडक्रास कार्यालय में इसको लेकर बैठक की गई जिसमें ड्राइविंग लाइसेंस बनवानों को उक्त सॢटकेट के बारे में विस्तार से बताया गया।
उक्त जानकारी देते हुए जिला प्रशिक्षण अधिकारी ईशांक कौशिक ने बताया कि प्रार्थी से फीस नकद नहीं ली जाएगी बल्कि प्रार्थी को ऑनलाइन माध्यम से फीस जमा करवानी होगी, जो प्रति व्यक्ति 300 रुपए होगी। पूरे प्रदेश का एक पोर्टल तैयार किया गया है। इस पर जाकर विद्यार्थी को अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। उसे बताना होगा कि वह ट्रेनिंग किस तिथि को लेना चाहता है। इसके अलावा कक्षाओं के मोड भी इसमें दिए गए हैं। प्रार्थी ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में कक्षाएं दे सकेगा। लर्निंग के सर्टीफिकेट का रिकॉर्ड ऑनलाइन होगा। कोई भी व्यक्ति रजिस्ट्रेशन नंबर डालकर सर्टीफिकेट की जांच कर सकेगा। पास होने वालों को सर्टीफिकेट ऑनलाइन जारी होगा तथा फेल होने वालों तथा अनुपस्थित रहने वालों को दो मौके और दिए जाएंगे।।ट्रेनिंग के लिए रेडक्रॉस की बजाय घर से भी ट्रेनिंग करने का प्रावधान किया गया है। वीडियो लैक्चरर के माध्यम से कक्षा लगाकर तथा ऑनलाइन प्रश्नों के जवाब देकर प्रार्थी घर बैठे ही सर्टीफिकेट हासिल कर पाएगा। प्रश्र अंग्रेजी और हिन्दी दोनों माध्यमों में उपलब्ध होंगे। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद प्रार्थी का सर्टीफिकेट जैनरेट हो जाएगा।
जिला सचिव विकास कुमार ने कहा कि रेडक्रॉस भवन में प्रार्थी 300 रुपए ऑनलाइन फीस ई-पैमेंट के माध्यम से जमा करवाकर फस्र्ट एड की ट्रेनिंग ले सकता है। इस समय वेटिंग लंबी होने के चलते एक माह की एडवांस बुकिंग हो चुकी है। हर रोज बच्चों को फार्म वितरित किए जा रहे हैं तथा उन्हें तिथि बताई जा रही है। इसके बाद यहां पर बनाए गए ट्रेनिंग रूम में प्रार्थी को प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद सर्टीफिकेट ऑफलाइन जारी होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here