पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल ने दिखाई मुस्तैदी, सभी जिलों में एडवाइजरी जारी सभी डीसी को धुल से बचाव को पानी छिड़काव कराने के निर्देश

73

Chandigarh Aone News/ Dinesh Bhardwaj :14 जून। मौसम के बिगड़ने संतुलन और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) सहित समूचे प्रदेश में उठे धूल की वजह से बढ़े पर्यावरण प्रदूषण पर राज्य का पर्यावरण मंत्रालय सक्रिय नज़र आया है। प्रदूषण को देखते हुए मुस्तैद दिखे राज्य के पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री विपुल गोयल के आदेशों पर हरियाणा राज्य पर्यावरण नियंत्रण बोर्ड की ओर से एडवाइजरी जारी की गई है।

गोयल के आदेशों पर सभी जिलों के डीसी और नगर निगम आयुक्तों को इस संदर्भ में लिखित आदेश जारी किए गए हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित समूचा एनसीआर इससे प्रभावित है। प्रदूषण काफी बढ़ गया है। तय मापदंडों से कई गुणा अधिक प्रदूषण एनसीआर क्षेत्र में रिकार्ड किया गया है। इसे देखते हुए गोयल के निर्देशों पर बोर्ड ने कई अहम हिदायतें जारी की हैं। फिलहाल अगले 48 घंटों के लिए एडवाइजरी जारी की गई है।

साथ ही, यह भी कहा गया है कि अगर जरूरत पड़ी तो प्रदूषण रोकने के लिए विभिन्न तरह की गतिविधियों पर लगाई जाने वाली पाबंदी को और भी बढ़ाया जा सकता है। बोर्ड ने सभी जिला अधिकारियों को तुरंत प्रभाव से धूल से बचाव के लिए पानी छिड़काव के निर्देश दिए हैं ताकि प्रदूषण को कम किया जा सके। इसी तरह से शहरों में अगले चौबीस घंटों तक सभी प्रकार के निर्माण कार्यों पर पाबंदी लगाने को कहा गया है।

शहरों में कूड़े-कचरे को जलाने की गतिविधियों को भी रोका गया है ताकि प्रदूषण न फैले। निकाय अधिकारियों को कहा गया है कि शहरों में सड़कों एवं गलियों की सफाई से पहले पानी छिड़काव करवाएं ताकि धूल न उड़े। सभी प्रकार के हॉट मिक्स प्लांट और स्टोन क्रशर की गतिविधियों पर अगले 48 घंटों के लिए पाबंदी लगाई गई है। गोयल ने कहा कि पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाने के लिए आम लोगों को भी सहयोग करना चाहिए। नागिरकों को चाहिएं कि वे अपने मकानों व व्यावसासिक प्रतिष्ठानों के आगे भी कूड़ा-कर्कट न जलाएं। धूल को उड़ने से रोका जाए ताकि प्रदूषण को कंट्रोल किया जा सके।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf