दशहरा बचाओ कमेटी ने विधायक सीमा त्रिखा का पुतला फूंका

189

Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj :दशहरा बचाओ कमेटी ने हार्डवेयर चौक पर विधायक सीमा त्रिखा का पुतला फूंका। सीमा त्रिखा हाय हाय के नारे लगते हुए उन्होंने भाजपा सरकार मुर्दा बाद के नारे लगाते हुए विधायक सीमा त्रिखा का पुतला फूंका। दशहरा बचाओ कमेटी के अध्यक्ष अमरजीत सिंह भाटिया ने बताया की बड़खल विधायिका सीमा त्रिखा व केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर दोनों ही मिलकर दशहरे पर्व को खराब करने में तुले हैं। जबकि दशहरा पिछले 6 वर्षों से सिद्धपीठ मंदिर हनुमान मंदिर ही मनाता आया है लेकिन राजनीति के चलते इन दोनों की मिलीभगत से पिछले 3 सालों से दशहरा सिद्धपीठ मंदिर हनुमान मंदिर को दशहरा मनाने की अनुमति राजनीति के कारण नहीं मिल पा रही है। इससे बन्नू बिरादरी में काफी रोष है। इस बार जनता विधायिका सीमा त्रिखा को उनको आईना दिखा देगी की जो उन्होंने बडखल विधानसभा क्षेत्र में बन्नू बिरादरी के लोगों को दिखाइ है। इस बार इलेक्शन में उनको दिखा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि आज प्रशासन उनके दबाव के कारण दशहरे की अनुमति नहीं दे पा रहा है। प्रशासन राजनितिक दबाव के चलते ही सिद्ध पीठ हनुमान मंदिर को गुमराह कर रहा है और अपने पास बुला कर खरी खोटी सुना रहा है इससे पता लगता है कि प्रशासन कितना दबाव में है।

श्री भाटिया ने कहाकि अगर केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर और बड़खल विधायिका सीमा त्रिखा यह कह रहे है कि इस मामले में हमारा कोई दखलंदाजी नहीं है तो उनको मंदिर के साथ आकर उन्हें अनुमति दिलानी चाहिए लेकिन ऐसा नहीं हो रहा। इससे ये साबित होता है की सरकार में उनकी एक नहीं चलती और जिला प्रशासन भी उनकी एक नहीं मानता। इस मामले में उनके साथ व्यापार मंडल के प्रधान जगदीश भाटिया, जवाहर कॉलोनी व्यापार मंडल के प्रधान नीरज भाटिया, व्यापारी एकता मंच के प्रधान अजय नौनिहाल, फ्रंटियर बाजार एसोसिएशन के प्रधान श्याम बांगा, फरीदाबाद इलेक्ट्रिकल ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रधान बलविंद्र सिंह, किरायेदार एसोसिएशन के प्रधान जगन शाह ने उनको समर्थन दिया और कहाकि अगर सिद्धपीठ मंदिर हनुमान मंदिर को दशहरा बनाने की अनुमति नहीं मिलती तो बाजार बंद रखेंगे। पुतला फूंकने वालो में राजू, श्याम, गृजेश, राकेश, सुरेंद्र, अजय, रमेश, राहुल, अरोड़ा, बिजेंद्र, गौरव, विक्रम, शंकर, चुन्नी लाल, बबलू, बलविंद्र, रामपाल, जोगिंदर आहूजा, रोहित, दिवांशु, मयंक, सुनील, अनुज, धर्म, कौशल, दीपक मौजूद थे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf