महिला ने प्रॉपर्टी विवाद के चलते अपने 2 भाइयों के साथ मिलकर कराई थी अपने ही देवर की हत्या

46
Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj : श्रीमान पुलिस आयुक्त श्री अमिताभ सिंह ढिल्लों के दिशा निर्देश पर आज दिनांक 29.06.18 को श्री लोकेन्द्र सिंह पुलिस उपायुक्त सैन्ट्रल ने अपने कार्यालय सै0 12 में प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि क्राईम ब्रांच डी.एल.एफ टीम के निरीक्षक नवीन कुमार व उनकी टीम ने एक और धमाका करते हुए तीन आरोपियों को दबौच, सराय ख्वाजा एरिया में हुए बर्लाइंड मर्डर केस का खुलासा किया है।
गिरफतार किए गए आरोपियों का ब्यौराः-
1.नेहा (काल्पनिक नाम) पत्नी अजय उर्फ सोनू पुत्री राजकुमार निवासी मकान न० । 90 सुभाष कैम्प नजदीक एनटीपीसी गेट न० 1 बदरपुर थाना बदरपुर दिल्ली।
2. पवन उर्फ झंडू पुत्र राजकुमार निवासी मकान न० 247 मैंन 25 फुट रोड गली न० 11 गगन विहार थाना साहिबाबाद जिला गाजियाबाद उत्तर प्रदेश।
3. संजीव शर्मा उर्फ सोनू पुत्र बिहारी लाल निवासी गाँव कनावनी नजदीक अमरपाली स्कूल इन्द्रापुरम साहिबाबाद जिला गाजियाबाद उत्तर प्रदेश।
आप को बताते चले कि दिनांक 11.06.2018 को राम कुमार शुक्ला पुत्र शियाराम निवासी मकान न० ए-90 सुभाष कैम्प एन.टी.पी.सी बदरपुर नई दिल्ली ने बताया कि उसके लड़के संजय उर्फ मोनू निवासी सूर्या विहार पार्ट तीन पल्ला फरीदाबाद, की दिनांक 11.06.2018 की सुबह 05.00 बजे अज्ञात लोगो द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी है। जिसपर मुकदमा न० 521 दिनांक 11.06.2018 302, 120बी आई.पी.सी व 25-54-59 आर्म एक्ट के तहत मामला थाना सराय ख्वाजा में दर्ज किया था।
श्री लोकेन्द्र सिंह डी.सी.पी सैन्ट्रल ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि मृतक संजय उर्फ मोनू जो हर रोज सुबह 05.00 बजे मटर सप्लाई का काम करता था। दिनांक 11.06.2018 की सुबह 05.00 बजे जैसे ही मटर सप्लाई के लिए घर से निकला उसके दरवाजे पर ही अज्ञात बदमाशो ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिसको ट्रेस करने की जिम्मेदारी अपराध शाखा डी.एल.एफ फरीदाबाद प्रभारी निरीक्षक नवीन कुमार को सौपी थी।
उन्होने बताया कि अपराध शाखा डीएलएफ की टीम ने मामले की जाँच शुरू की, जांच करने पर मृतक के परिवार वा रिश्तेदारों को शक के दायरे में आने पर उनसे गहनता से पूछताछ की गई तो पता चला कि मृतक संजय उर्फ मोनू की हत्या में कोई और नहीं बल्कि उसके बड़े भाई सोनू उर्फ अजय की पत्नी नेहा (काल्पनिक नाम) ही है।
जिसने योजना बद्ध तरीके से अपने भाई पवन उर्फ झंडू व चचेरा भाई संजीव उर्फ सोनू के साथ मिलकर इस हत्या की वारदात को अंजाम दिया था।
प्रभारी क्राईम ब्रांच इंस्पेक्टर नवीन ने बताया कि आरोपी महिला के पति जो नशा करते थे जिसके चलते उसके पति अजय को उसके पिता (आरोपी महिला के ससुर) ने घर से बेदखल कर दिया था। उसके बाद आरोपी नेहा (काल्पनिक नाम) को भी 2 साल बाद ससुराल वालों ने अलग कर दिया था। जो नेहा (काल्पनिक नाम) इसी बात को लेकर अपने मन में रंजिश पाले हुए थी।
जिसकी नियत मृतक संजय उर्फ मोनू के मकान को हड़प करने की भी थी। जो मृतक संजय के मकान को हड़पने के लिए व उस घर में जाने के लिए आरोपी नेहा (काल्पनिक नाम) ने अपने भाईयो के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया था।
पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आरोपी पवन व संजीव शर्मा को दिनांक 28.06.2018 को गिरफ्तार किया व मास्टरमाइंड आरोपी नेहा (काल्पनिक नाम) को आज दिनांक 29.06.2018 को गिरफ्तार किया गया है। व वारदात में प्रयोग एक देसी कट्टा, 1 खाली खोल, 1 जिन्दा रौंद वा मोटरसाईकिल बरामद की गई। जो आरोपीयान को आज पेश अदालत करके रिमाण्ड हासिल किया जाएगा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf