नारी को कोई अवला और बेचारी ना समझे : पूनम सिनसिनवार 

67
Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj : स्त्री शक्ति पहल समिति संस्था की आजाद नगर के झुग्गी में संचालित केंद्र की महिलाओं ने आज वाइट लोटस ट्रस्ट के कपड़ों के थैले सिलने के आर्डर को पूरा किया इस उपलक्ष में उन्होंने अपने हाथों के द्वारा सिले हुए कपड़े के थैले का प्रदर्शन किया पूनम ने बताया कि आज हमारे समाज में प्लास्टिक की थैलियों का प्रयोग हो रहा है जो ना कि हमारे स्वास्थ्य के लिए अपितु पर्यावरण के लिए भी बहुत हानिकारक है क्योंकि प्लास्टिक की थैलियां कभी गलती नहीं है और सदैव पर्यावरण को नुकसान पहुंचाती है आज आजाद नगर झुग्गी की महिलाओं ने स्त्री शक्ति पहल समिति के सिलाई केंद्र से सिलाई सीख कर यह बैग सील  कर दिखा दिया कि यदि महिलाओं को वाइट लोटस चैरिटेबल ट्रस्ट की तरह और भी जो संस्थाएं हैं इन को आगे बढ़ाने के लिए इनको सिलाई से संबंधित कोई कार्य दिया जाए तो यह अच्छी तरह कर सकती हैं और इसे ना यह सिर्फ अपना अपितु अपने परिवार का भी पालन पोषण में मदद कर सकती हैं इससे इनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और यह महिलाएं समाज की मुख्यधारा में जुड़ जायेंगे इनको मौका देने की अति आवश्यकता है स्त्री शक्ति पहल समिति बजाज फाउंडेशन के सहयोग से इन महिलाओं को सिलाई कढ़ाई में ब्यूटी पार्लर ट्रेनिंग मुफ्त में दे रही है और हमारी संस्था का कार्य केवल ट्रेनिंग देना ही नहीं है अपितु इन महिलाओं को ट्रेनिंग के बाद रोजगार उपलब्ध करवाना भी संस्था अपनी जिम्मेदारी समझती है इसी पहल को आगे लेकर हमने वाइट लोटस चैरिटेबल ट्रस्ट के साथ बैग सिलने का यह करार किया और इसे सफलतापूर्वक पूरा किया उन्होंने बताया कि संस्था अब इन महिलाओं के हाथों के सिले हुए कपड़े के थैलों को स्लम एरिया के अंदर जाकर बांटेगी ताकि प्लास्टिक की थैलियों की ज़रूरत ही ना पड़े और पर्यावरण भी सुरक्षित रहे और हम भी सुरक्षित रहें इससे एक तरफ इन को रोजगार मिलेगा तो दूसरी तरफ हमारा पर्यावरण भी स्वच्छ रहेगा

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf