ट्यूबवैल को लेकर पार्षद एवं विधायक आमने-सामने

0
510

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 3 मार्च सैनिक कॉलोनी में ट्यूबवैल लगाने को लेकर बडख़ल विधायिका एवं पार्षद आमने-सामने हो गए। पार्षद द्वारा आज से लगभग दो वर्ष पूर्व सैनिक कॉलोनी के. ब्लॉक में बोरवैल के लिए मशीन लगवाई गई। मगर यह मशीन लगभग 150 फीट बोर करने के बाद बिना पूरा कार्य किए वापिस लौट आई। अब यह सब किसके इशारे पर हुआ, इसके बारे में कुछ नहीं जा सकता, मगर के. ब्लॉक के लोगों की पानी की समस्या जस की तस रह गई। इस मामले को सोमवार को वार्ड नं. 16 के पार्षद राकेश भड़ाना ने सदन की बैठक में उठाया। जिसके बाद कमिश्नर ने सैनिक कॉलोनी में ट्यूबवैल लगाने के निर्देश दिए। मगर अबकी बार मशीन के. ब्लॉक की जगह कहीं और लगा दी गई, जिसका उद्घाटन भी विधायिका के समर्थकों ने कर दिया। मगर स्थानीय पार्षद को यह बात नागवार गुजरी और उन्होंने जाकर कार्य रुकवा दिया। उनका कहना था कि यह मशीन जहां पहले लगी थी, बोर वहीं होना चाहिए। इस सारे मामले को लेकर सैनिक कॉलोनी के लोग निगम कमिश्नर से मिले, जिसके बाद उन्होंने स्वयं मामले में दखल देते हुए के. ब्लॉक जहां पहले 150 फीट बोर हो रखा है एवं एच ब्लॉक में दोनों जगह मशीनें भिजवा दी और दोनों ब्लॉकों में ट्यूबवैल लगाए जा रहे हैं। जिसके चलते सैनिक कॉलोनी के लोगों को राहत मिली है। मगर, देखना यह है कि विधायिका और पार्षद की आपसी खींचतान में जीत किसकी होती है।
पार्षद का कोई कोटा नहीं होता, नगर निगम के पास तनख्वाह देने के लिए पैसा नहीं। प्रदेश एवं बडख़ल विधानसभा में सभी काम मुख्यमंत्री की घोषणा से किए जा रहे हैं और जनता की भलाइ के लिए, जनता के हित में काम किए जा रहे हैं। बडख़ल विधानसभा क्षेत्र में जो भी काम हो रहे हैं, वो विधायक एवं पार्षद के प्रयासों से ही हो रहे हैं। पार्षद को काम करने से नहीं रोका जा रहा है, वो जनता की भलाई के लिए कार्य करें, हम उनके साथ हैं। सभी जगह एक समान रूप से विकास कार्य कराए जाएंगे। जनता को विश्वास में रखकर किए जा रहे हैं विकास कार्य। सैनिक कॉलोनी के हर घर में लोगों को मिलेगा पूरा पानी। सैनिक कॉलोनी के लोगों की पानी की पाइप बदलने के लिए 8 करोड़ का एस्टीमेट बनवाकर जल्द ही मुख्यमंत्री को भेजा जाएगा।
सीमा त्रिखा, विधायक, बडख़ल विधानसभा क्षेत्र
पार्षद कोटे के दो ट्यूबवैल बकाया थे, जो के ब्लॉक में एवं जे ब्लॉक में लगने थे। मगर दो माह पूर्व जब के ब्लॉक में मैंने मशीन लगवाई तो वहां पर काम रोक दिया गया और बिना बोर करे मशीन वहां से चली गई। इसके बाद सदन की बैठक में मुद्दा उठाने के बाद जब मशीन भेजी गई तो विधायिका के समर्थकों ने एच ब्लॉक में मशीन लगवा दी। जबकि पहले बोर के. ब्लॉक में होना चाहिए, जहां से मशीन वापिस भेजी गई। मुझे कोई आपत्ति नहीं है, उद्घाटन कोई कर ले, मगर कम से कम जहां जरूरत हो, वहां ट्यूबवैल लगने चाहिए। मैंने कोई ट्यूबवैल का काम नहीं रुकवाया है। मेरी मांग बस इतनी है, जहां लोगों को पानी की जरूरत है, जहां ट्यूबवैल लगना चाहिए था, वहां से उठाकर कहीं और ट्यूवबैल लगाया जा रहा है।
राकेश भड़ाना, पार्षद नगर निगम वार्ड नं. 16

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here