महंगाई, बेरोजगारी व किसानों की समस्याओं को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन 22 को

93

Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj:17 नवम्बर। जिले के कांग्रेसियों की एक बैठक रविवार को सेक्टर-16ए स्थित सर्किट हाऊस में सम्पन्न हुई। बैठक में उपस्थित कांग्रेसियों ने भाजपाई द्वारा कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर दिए गए विरोध प्रदर्शन को लेकर निंदा प्रस्ताव पारित किया गया। बैठक की अध्यक्षता पूर्व विधायक रघुबीर सिंह तेवतिया, विधायक नीरज शर्मा व विजय प्रताप ने की। बैठक में बढती महंगाई, रोजगारी, अपराध व किसानों की समस्याओं के ज्वलंत मुद्दों को लेकर आगामी 22 नवंबर को जिला मुख्यालय पर होने वाले विशाल विरोध प्रदर्शन की रुपरेखा तय की गई और कहा कि इस विरोध प्रदर्शन में पूरे जिले के कांग्रेसी एकजुट होकर भाजपा सरकार की ईट से ईट बजाने का काम करेंगे। इस मौके पर पूर्व विधायक आनंद कौशिक, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पं. योगेश गौड़, पूर्व मेयर अशोक अरोड़ा, पूर्व डिप्टी मेयर मुकेश शर्मा, गुलशन बग्गा, प्रदेश सचिव व प्रवक्ता सुमित गौड़, जिलाध्यक्ष युवा कांग्रेस तरुण तेवतिया, नितिन सिंगला, पं. राजेंद्र शर्मा, पूर्व पार्षद योगेश ढींगड़ा, जगन डागर, महिला नेत्री पराग शर्मा, पूर्व पार्षद अनिल शर्मा, पूर्व डिप्टी मेयर राजेंद्र भामला, कांग्रेसी नेता वेदपाल दायमा, कृष्ण अत्री, विनोद कौशिक, अनीशपाल, अशोक रावल, संजय सोलंकी आदि मौजूद रहे। बैठक को संबोधित करते हुए कांग्रेसी नेताओं ने संयुक्त रुप से कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार राजनैतिक द्वेष भावना के तहत कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर अर्न गर्ल आरोप लगाकर उनकी छवि खराब करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इसी राजनैतिक द्वेष के चलते भाजपा सरकार ने राहुल गांधी व उनके परिवार की सुरक्षा तक हटा दी, इससे साबित होता है कि भाजपा की नीति और नीयत में कितना अंतर है। कांग्रेसियों ने कहा कि कांग्रेस भाजपा की इस दोहरी नीति की कड़ी निंदा करती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा-जजपा गठबंधन स्वार्थ का गठबंधन है और इस गठबंधन की सरकार ज्यादा दिनों तक सत्ता में नंही रहेगी और हरियाणा में जनता फिर से कांग्रेस की सरकार बनाएगी और भाजपा को उसके हर कृत्य का मुंह तोड़ जवाब देने का काम करेगी। बैठक में कांग्रेसियों ने दिवंगत धर्मेन्द्र हुड्डा, बी.आर. ओझा, पूर्वमंत्री अजमत खान, खजान सिंह के निधन पर शोक प्रस्ताव पारित किया व बी.आर. ओझा के निवास पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf