CBSE पेपर लीक मामले में मदर खजानी स्कूल के प्रिसिंपल को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

51

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने सीबीएसई पेपर लीक मामले में बवाना के ‘मदर खजानी कॉन्वेंट स्कूल’ के प्राचार्य को गिरफ्तार किया. प्रश्न पत्र लीक करने में कथित संलिप्तता को लेकर इससे पहले भी इस स्कूल के दो शिक्षकों को गिरफ्तार किया जा चुका है. पुलिस उपायुक्त (अपराध) जी राम गोपाल नाइक ने स्कूल के प्राचार्य प्रवीण कुमार झा की गिरफ्तारी की पुष्टि की.

इस मामले की सुनाई के दौरान कड़कड़डूमा कोर्ट ने पुलिस को लताड़ लगाई थी कि इस मामले में सीबीएसई के कर्मचारियों और स्कूल प्रिंसिपल को अभी तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया है? इस पर दिल्ली पुलिस ने कहा था कि इस केस की जांच अभी जारी है.अप्रैल में मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के सामने तीनों आरोपियों को दिल्ली पुलिस ने पेश किया था. करीब 20 मिनट की सुनवाई के बाद कोर्ट ने तीनों आरोपियों को 2 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया. हालांकि, दिल्ली पुलिस ने 5 दिन की हिरासत की मांग की थी. कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से आईपीसी की धारा 420 लगाने का तर्क पूछ लिया.इसके जवाब से संतुष्ट ना होने पर कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को आईपीसी की रूल बुक दिखाते हुए आगे से सही धारा लगाने को कहा है. कोर्ट ने कहा कि ऐसा लगता है कि पुलिस और कानून की धाराएं अलग-अलग हैं. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने रविवार को तीनों लोगों को गिरफ्तार किया था, जो पेपर लीक करने के मुख्य आरोपी हैं।

पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार आरोपी टीचर ने बताया कि लिफाफा बंद पेपर की सील सुबह 9:45 बजे खोलनी थी, जबकि उसने आधा घंटा पहले 9:15 बजे ही सील खोल दी. उसने मोबाइल से पेपर्स की तस्वीरें लीं और तौकीर को भेज दीं. इसके बाद तौकीर ने व्हाट्सऐप के जरिए पेपर को लीक कर दिया था.सीबीएसई की ओर से 12वीं बोर्ड के इकोनॉमिक्स और 10वीं बोर्ड के मैथ का पेपर, लीक होने की वजह से रद्द कर दिया गया था. इसके साथ ही परीक्षा दोबारा करवाने का फैसला किया, जिसमें इकोनॉमिक्स के पेपर के रि-एग्जाम की तारीख की घोषणा कर दी गई थी।

#aonenewstv

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf