सरकारी हॉस्पिटल मे पहुँचने के बाद भी बच्चे की डिलिवरी पार्क में कराने को हुई मजबूर पीड़िता

42
Faridabad Aone News/ Dinesh Bhardwaj : 6 जुुन को पीड़ित को हॉस्पिटल से बिना डिलीवरी व बिना चेकअप के  दिल्ली भेेेज ने के बहाने से मेरे को अटेंड नहीं किया और उस समय बीके हॉस्पिटल ने डा संगीत इंचार्ज थी ,
रात 10.30 बजे पीड़ित ने हॉस्पिटल के पार्क में हुई डिलीवरी , उसके बाद पीड़ित (जच्चा व बच्चा ) को 2 बजे के लगभग घर भेज दिया , पीड़ित इमराना (24 बर्ष) पत्नी मुवारिक को हुई लड़की ,
पति का नाम मुवारिक (26 वर्ष) पुत्र इसाक गांव तीसगाड़ी  थाना हसनपुर, जिला पलबल,
पीड़ित को कल भी कोसी हॉस्पिटल में एडमिट है पीड़ित,
हॉस्पिटल मैनेजमेंट ने एक जांच कमेटी बनाकर ,इस केस की जांच करके 48 घण्टो में रिपोर्ट देने के लिये कहा गया ,
*अब देखना यह है कि हॉस्पिटल की जांच में क्या निकल कर आता है ?*
यह बीके हॉस्पिटल का एक मामला सभी के सामने आया है
कुछ पीड़ित तो अपनी शिकायत भी नही करते है ,
डॉक्टर के इसी तरह के व्यवहार से जनता सरकारी हॉस्पिटल ने इलाज करना नही चाहती है ,
*जनता सरकारी हॉस्पिटल में जाकर परेशान होने से अच्छा है कि प्राइबेट हॉस्पिटल में जाना बेहतर समझते है*
आज तक 96 घण्टे हो गए है अभी तक कोई रिपोर्ट नही आई है

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf