9 राज्यों की बाढ रिपोर्ट : यूपी, बिहार में सबसे ज्यादा तबाही…

135

देश में बाढ़ के हालात बिगड़ते जा रहे हैं. हर जगह बाढ़ का कहर जारी है. बिहार और उत्तर प्रदेश सहित नौ राज्यों में बाढ़ और भूस्खलन ने भारी तबाही मचाई है. इसी बीच एनडीआरएफ ने राहत और बचाव कार्य में तेजी लाने के लिए बाढ़ प्रभावित राज्यों में अतिरिक्त दल भेजे गए हैं.

एनडीआरएफ के अनुसार, बिहार, असम, यूपी, पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, गुजरात, त्रिपुरा, ओडिशा के आपदा प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव कार्य के लिए 113 टीमें तैनात की गई है.

आपदा प्रबंधन विभाग के विशेष सचिव अनिरुद्ध कुमार ने बताया कि बिहार में बाढ़ से 14 जिले प्रभावित हैं. अब तक 72 लोगों की जान जा चुकी है. उन्होंने बताया कि बाढ़ के कारण इन 14 जिलों के 110 प्रखंड और 1,151 पंचायत क्षेत्र प्रभावित हुए हैं. कुल 73.44 लाख आबादी प्रभावित हुई है. राज्य सरकार के द्वारा बाढ़ में घिरे लोगों को सुरक्षित निकाले जाने का कार्य किया जा रहा है. अब तक 2.74 लाख लोगों को बाढ़ प्रभावित इलाके से सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है. 504 राहत शिविरों में 1.16 लाख व्यक्ति शरण लिए हुए हैं.

भारी बारिश के चलते उत्तरप्रदेश के 15 जिले बाढ़ से प्रभावित हुए है. गोंडा, बहराइच, श्रावस्ती, सखीमपुर खीरी, बलरामपुर सबसे ज्यादा प्रभावित है. उत्तरप्रदेश में मरने वालों की 33 हो चुकी है. अब तक लगभग 2500 लोगों को एनडीआरएफ की टीम ने बचाया है. साथ ही लोगों को खाने के पैकेट बांटे गए.

असम में भी बाढ़ के चलते हालात ठीक नहीं है. वहां 11 और लोगों की मौत हुई जिससे मृतकों का आंकड़ा 39 हो गया. राज्य के कुल 32 जिलों में से 24 में करीब 33.45 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. असम में इस साल बाढ़ से कुल 123 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, पश्चिम बंगाल एनडीआरएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राज्य में बाढ़ से कम से कम 32 लोगों की मौत हो गई. साथ ही 14 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं. वहीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाना उनकी सरकार की पहली प्राथमिकता है.

हिमाचल प्रदेश में एनडीआरएफ की टीमें मंडी पठानकोट मार्च पर भूस्खलन के बाद बचाव कार्यों में जुटी. बताया जा रहा है कि अब तक 46 शव बरामद हुए है. इसके साथ ही 3 लोगों को सुरक्षित बचाया गया.

गुजरात के प्रभावित इलाकों में 6 एनडीआरएफ की टीम तैनात की गई. एनडीआरएफ की टीम ने 11 मृतकों के शव बरामद किए गए.

त्रिपुरा में भी एनडीआरएफ की टीम राहत कार्यों में लगी. सरकार ने 43 राहत शिविर पीड़ितों के लिए स्थापित किए. लगभग 6000 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा.

अरुणचल प्रदेश और ओडिशा के भी कई इलाके प्रभावित हुए है. कई जगह यातायात प्रभावित हुआ, जिसके चलते लोगों को आवागमन में परेशानी हुई. बाढ़ के चलते कई राज्यों की संचार व्यवस्था भी चरमरा गई…

AONENEWSTV.COM. Edited by. Sakshi verma

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf