16 साल के स्टूडेंट ने बोर्ड को दी पेपर लीक की जानकारी

67

नई दिल्ली: सीबीएसीई के 10वीं और 12वीं के पेपर लीक होने से देश भर के छात्रों में रोष है. अब क्राइम ब्रांच इस मामले में जांच कर रही है. छात्रों के भविष्य से जुड़े मामले में व्हीसल ब्लोअर भी एक 16 साल का छात्र ही बना. यह छात्र खुद भी 10वीं की परीक्षा दे रहा है. यह छात्र पश्चिमी दिल्ली के एक स्कूल में पढ़ता है उसने ही सबसे पहले पेपर लीक होने की जानकारी बोर्ड को दी थी.

इस मामले में सीबीएसई चेयरपर्सन अनिता करवाल को एक आधिकारिक मेल पर शिकायत मिली थी. इस मेल में सूचना दी गई थी. कि व्हाट्सएप पर पेपर लीक हो गया है. छात्र ने मेल भेजने के लिए अपने पिता की आईडी का इस्तेमाल किया था. और जांच की मांग की थी.

परीक्षा हो जाने के बाद बोर्ड ने इस मेल की जानकारी पुलिस को दी. इसके बाद क्राइम ब्रांच ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की छात्र की पहचान के लिए क्राइम ब्रांच ने गूगल से भी मदद मांगी है. छात्र के पिता दिल्ली क्लब में काम करते हैं. साथ ही वे इस बात की पुष्टि भी कर चुके हैं. कि मेल उऩके बेटे ने ही किया था.

उन्होंने बताया कि उनके बेटे को किसी ने व्हाट्सएप पर गणित का पेपर भेजा था. जिसके बाद वह परेशान हो गया हो और उसने इसकी सूचना बोर्ड को देकर पेपर रद्द कराने की मांग करने का फैसला लिया. साथ ही भेजे गए मेल में वायरल पेपर भी अटैच किया गया था.

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf