रतन टाटा और धीरूभाई अंबानी ने जन्मदिन पर व्यक्त किये कुछ विचार

167

नई दिल्ली: भारत के इतिहास में 28 दिसंबर का दिन बहुत खास है। आज भारत के कारोबारी जगत के 2 दिग्गज रतन टाटा और धीरूभाई अंबानी का जन्मदिन है। धीरूभाई का जन्म 28 दिसंबर 1932 को गुजरात के चोरवाड़ मे हुआ था। वहीं रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर 1937 को गुजरात के सूरत में हुआ था। रतन टाटा ने जहां टाटा संस को नया मुकाम दिया वहीं धीरूभाई अंबानी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज को देश की टॉप कंपनियों में खड़ा कर दिया। टाटा के नाम को हर घर में पहुंचाने में रतन टाटा ने बड़ी भूमिका निभाई। दूसरी तरफ अपने पिता के कदमों पर चलते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी ने भी कारोबार को नई ऊंचाईया दी। आईए जानते हैं रतन टाटा और धीरूभाई अंबानी की कही 10 बड़ी बातें जिनसे आप भी सीख ले सकते हैं।

धीरूभाई अंबानी की कही 5 बड़ी बातें

-अगर आप अपना सपना पूरा नहीं करेंगे तो कोई और आपको नौकरी पर रख कर अपना सपना पूरा कर लेगा।
-अगर आप गरीब पैदा हुए है तो ये आपकी गलती नहीं है पर अगर आप गरीब मरते हैं तो ये आपकी गलती है।
-बड़ा सोचे, जल्दी सोचे, सबसे आगे सोचे। विचार पर किसी का एकाधिकार नहीं है।
-मुनाफा कमाने के लिए कोई आपको आमंत्रण नहीं देगा।
-अगर आपको कुछ कमाना है तो जोखिम लेना ही होगा।

रतन टाटा की कही 5 बड़ी बातें

-लोग आप पर जो पत्थर फैंकते हैं उसका उपयोग कर स्मारक बना लें।
-आगे बढ़ने के लिए हमारे जीवन में उतार-चढ़ाव बहुत जरुरी है क्योंकि ईसीजी में सीधी लाइन का मतलब होता है हम जिंदा नहीं है।
-अगर आप तेज चलना चाहते हैं तो अकेले चलें। पर अगर आप लंबा चलना चाहते हैं तो साथ चलें।
-मैं सही फैसले लेने में विश्वास नहीं करता। मैं फैसलें लेता हूं और फिर उन्हें सही बनाता हूं।
-लोहे को उसकी खुद की जंग के अलावा कोई नहीं नष्ट कर सकता। इसी तरह किसी व्यक्ति को उसके खुद के माइंडसेट के अलावा कोई खत्म नहीं कर सकता।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf