पत्थरबाजी की घटनाएं कम करने में कामयाब सीआरपीएफ और एनआईए

176

नई दिल्ली: सीआरपीएफ के डायरेक्टर जनरल राजीव भटनागर का कहना है कि जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी की घटनाएं साल 2016 की मुकाबले कम हुई हैं. उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों और जांच एजेंसियों द्वारा अलगाववादियों और अन्य लोगों के खिलाफ की गई प्रभावी कार्यवाही से घाटी में पत्थरबाजी की घटनाएँ कम हुई हैं.

राजीव भटनागर ने कहा कि हमारी नई रणनीति के तहत इस साल पत्थरबाजी की 424 घटनाएं हुई हैं जो पिछले साल की तुलना में आधे से भी कम है. साल 2016 में करीब 1590 पत्थरबाजी की घटनाएं हुई थीं. नए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर, भीड़ से निपटने की नई रणनीति, एनआईए जैसी संस्थाओं की ओर से की गई कार्रवाई और सुरक्षा बलों की ओर से किए गए ज्वाइंट ऑपरेशन जैसे कदम इन घटनाओं को कम करने में कारगर साबित हुए हैं.

भटनागर ने कहा कि जम्मू और कश्मीर में अलगाववादियों और उनके ऑपरेटिव के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सीआरपीएफ और एनआईए मिलकर काम कर रही हैं. सीआरपीएफ ने ऑपरेशनों के दौरान हिंसक भीड़ पर भी काबू रखने में कामयाबी हासिल की है.

यूपी कैडर के 1983 बैच के आईपीएस अधिकारी ने कहा कि घायल हुए कर्मियों की संख्या भी पिछले वर्ष की तुलना में एक तिहाई हुई है. उन्होंने कहा कि घाटी में आतंकवादी घटनाओं में भी कमी आई है और अमरनाथ यात्रा के बाकी हिस्से तक सुरक्षा अभ्यास में कुछ बदलाव आए हैं.

#aonenews [edited by: स्वर्णिमा मिश्रा]

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf