जानलेवा CANCER: इसे कतई इग्नोर न करें, गौर करे ये लक्षण

35

आजकल पता ही नहीं चलता कब…किसे…क्या हो जाये। इसलिये आपको सचेत रह्ना बहुत जरुरी है. सबसे ज्यादा खतरनाक और जानलेवा है ये CANCER, जिसके लक्षण कभी पता ही नही चल पाते, जब पता चलते हैं तब तक तो बहुत देर हो चुकी होती है। ये लक्षण खास तौर पर महिलाओं में उभरते हैं, इसलिए महिलाओं को इन्हें इग्नोर नहीं करना चाहिए. जानें इनके बारे में-

  1. पीरियड्स के बीच में बिना वजह ब्लीडिंग, स्पॉटिंग हो तो इसे इग्नोर ना करें. ये यूटरेस में कैंसर पनपने का लक्षण माना जाता है.
  2. अगर आपके ब्रेस्ट का कलर चेंज हो तो सावधान हो जाएं. साथ ही इसमें से अकारण डिस्चार्ज किसी बीमारी का संकेत हो सकता है.
  3. महिलाओं को ब्लोटिंग (पेट में सूजन) की समस्या होती है. एक या दो हफ्ते तक ब्लोटिंग होना कोई नई बात नहीं है. पर अगर समय के साथ ये कम ना हो तो डॉक्टर को दिखाएं. अगर वजन में कमी या ब्लीडिंग के साथ ब्लोटिंग हो तो ये खतरनाक हो सकती है.
  4. अगर आपकी त्वचा का रंग, शेप या साइज बदल रहा हो. या फिर कोई अन्य मस्सा या स्पॉट अपना आकार बदल रहा हो. तो ये स्किन कैंसर का लक्षण हो सकता है.
  5. अगर बिना कुछ किए ही आपका वजन कम होता जा रहा हो ये अच्छा लक्षण नहीं है. अगर आपका वजन 10 किलो से ज्यादा कम हो गया हो तो जरूर सलाह लें.
  6. पेट में दर्द और अकारण डिप्रेशन को डॉक्टर्स पेनक्रियाटिक कैंसर का लक्षण मानते हैं.
  7. अगर शरीर के किसी ऐसे अंग से ब्लीडिंग हो, जहां से ब्लीडिंग नहीं होती है तो डॉक्टर के पास जाएं. जैसे स्टूल में ब्लीडिंग. यूरीन में ब्लड आना भी ब्लैडर या किडनी कैंसर का लक्षण हो सकता है.
  8. खाना खाने में या चबाने में किसी तरह की समस्या को इग्नोर ना करें. अगर ये उल्टी, वजन में कमी के साथ हो रहा हो तो डॉक्टर को दिखाएं.
  9. अगर आपको कई दिनों तक बुखार हो और उसका कोई कारण समझ ना आ रहा हो, या बुखार लौट-लौटकर वापिस आ रहा हो तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं.
  10. घबराहट, सीने में जलन बनी रहने की समस्या हो और ये दो सप्ताह से ज्यादा तक बनी रहे तो इसे इग्नोर ना करें.
  11. ज्यादातर महिलाओं को थकावट की समस्या रहती है. इससे उन्हें चक्कर भी आ सकते हैं. पर तेज चक्कर या बेहोशी को इग्नोर नहीं करना चाहिए.
  12. कैंसर से आमतौर पर दर्द नहीं होता. पर कोई खास दर्द जो लंबे समय से बना हुआ हो, और जो फैल रहा हो उसे इग्नोर नहीं करना चाहिए. एक महीने से अधिक समय तक दर्द के बारे में डॉक्टर से सलाह लें.

इस बदलते परिवेश में महिलाओं को थोडा सावधान रहने की ज़रुरत है। आप इन लक्षणों को पहचान कर सचेत रह सकती हैं।

Aonenewstv.com [Edited by Megha Verma]

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf