कांग्रेस ने कहा- पीएम मोदी और अमित शाह पर भी हो FIR

246

दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इंटरव्यू पर शुरू हुआ विवाद अब चुनाव आयोग के दरवाजे पर पहुंच गया है. आज बीजेपी की शिकायत पर चुनाव आयोग ने राहुल गांधी को नोटिस जारी किया और इंटरव्यू दिखाने वाले चैनलों के खिलाफ एफआईआर का आदेश दिया.

चुनाव आयोग की इस कार्रवाई पर कांग्रेस के बड़े नेता अशोक गहलोत की अगुवाई में चुनाव आयोग पहुचे. चुनाव आयोग में कांग्रेस ने मीडिया को दबाने और दोहरे मापदंड अपनाने ती बात कही.

मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ”हम चुनाव आयोग से कहने आए हैं कि 2014 में चुनाव से एक दिन प्रधानमंत्री ने कई चैनलों को इंटरव्यू दिया कोई कार्रवाई नहीं हुई. मोदी जी ने वोटिंग के दिन पार्टी का सिंबल तक दिखाया कोई कार्रवाई नहीं हुई. पहले चरण के चुनाव के बाद वित्त मंत्री और दूसरे नेता घोषणापत्र जारी करते हैं कोई कार्रवाई नहीं होती. आज बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह एक विस्तृत प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं, कोई कार्रवाई नहीं होती. प्रधानमंत्री ने आज फिक्की में एक राजनीतिक भाषण दिया, अपने ही एक एप को प्रमोट किया, कोई कार्रवाई नहीं हुई.”

उन्होनें कहा, ”अगर चुनाव आयोग के मापदंड समान हैं तो फिर कार्रवाई अलग-अलग क्यों. अगर मापदंड समान हैं तो सबसे पहली एफआईआर प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ, वित्त मंत्री जेटली के खिलाफ, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल के खिलाफ होनी चाहिए.

आपको बता दे कि आयोग ने राहुल से जवाब मांगा कि क्यों ना उनके खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन के मामले के तहत कार्रवाई की जाए? राहुल गांधी को 18 दिसंबर को शाम पांच बजे तक जवाब देना होगा. गुजरात चुनाव में दूसरे चरण की वोटिंग से एक दिन पहले कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी का इंटरव्यू दिखाने पर चुनाव आयोग सख्त हो गया है. आयोग इंटरव्यू दिखाने को आचार संहिता का उल्लंघन माना है. चुनाव आयोग ने इंटरव्यू दिखाने वालों चैनलों के खिलाफ एफआईआर का भी आदेश के साथ-साथ आगे इंटरव्यू दिखाने पर भी रोक लगा दी है.

#Aonenewstv. Edited by. Sakshi Verma

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf