इक्विटी और कमोडिटी दोनों तरह के स्टॉक्स की ट्रेडिंग एक्सचेंज को सेबी की मंजूरी

115

मुंबई: अब नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) पर भी कमोडिटी ट्रेडिंग हो सकेगी। बाजार के रेगुलेटर सेबी ने इसकी मंजूरी दे दी है।
सेबी ने इक्विटी और कमोडिटी दोनों तरह के स्टॉक्स की ट्रेडिंग एक ही एक्सचेंज पर करने को मंजूरी प्रदान कर दी, जो 2018 के अक्टूबर से प्रभावी होगी। यह फैसला सेबी की बोर्ड बैठक में लिया गया। इसका एलान सेबी के चेयरमैन अजय त्यागी ने की।

एक ही प्लेटफॉर्म पर दोनों सेवा
त्यागी ने कहा कि यह फैसला साल 2018 के अक्टूबर से प्रभावी होगा तथा इससे क्रास लिस्टिंग के साथ ही निवेशकों को विभिन्न वर्गो की एसेट तक पहुंच प्रदान करेगा। इस निर्णय से बड़ी स्टॉक एक्सचेंज कंपनियां जैसे बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज), एनएससी (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज) और मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज ऑफ इंडिया (एमसीएक्स) अपने प्लेटफार्म पर इक्विटी और कमोडिटी दोनों को सूचीबद्ध कर पाएगी और निवेशकों को एक ही प्लेटफार्म पर दोनों सेवाएं मिलेंगी।

एक ही अकाउंट में रहेगा सबकुछ
एचडीएफसी सिक्युरिटीज के प्रमुख (रिटेल रिसर्च) दीपक जासानी का कहना है, ‘इस कदम से एनएसई और बीएसई जैसे शेयर बाजार को अपने प्लेटफार्म पर कमोडिटी उत्पाद लांच करने में मदद मिलेगी।’ जासानी ने कहा ‘इस सम्मिलन से लोग एक ही खाते के माध्यम से सभी वर्ग की परिसंपत्तियों में ट्रेडिंग कर सकेंगे। सेबी इसके अलावा आरईआईटी (रियल एस्टेट इनवेस्टमेंट ट्रस्ट) के लिए भी नियमों को सरल और तर्कसंगत बना रही है।’

पारदर्शी होगी ट्रेडिंग
बीएसई के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष कुमार चौहान ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, ‘बीएसई का मानना है कि यह निर्णय विभिन्न बाजारों में प्रतिभागियों को एक उच्च विनियमित, सुरक्षित, अधिक पारदर्शी ट्रेडिंग, समाशोधन और निपटान ढांचा बनाने में मदद करेगा।’ उन्होंने कहा, ‘बीएसई इसकी लंबे समय से मांग करता रहा है, ताकि अपने 3.71 करोड़ से अधिक पंजीकृत निवेशकों को ये सुविधाएं मुहैया करा सके।’

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf