अपनी चाल में खुद ही फंसा चाइना

260

नई दिल्ली : चीन और भारत के बीच डोकलाम विवाद के कारण दोनों देशों के रिश्तों में खटास आई है. चीनी मीडिया इस मुद्दे पर लगातार भारत पर हमलावर रहा है, वहीं चीन ने मंगलवार को भी इस मुद्दे पर 15 पेज का बयान जारी किया था. ऐसी स्थिति में सितंबर माह में होने वाली ब्रिक्स देशों की बैठक में जब चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे, तो उनके लिए यह काफी आसान नहीं होगा. ब्रिक्स की बैठक होने से पहले चीन इस मुद्दे को थोड़ा शांत करना चाहेगा. ये बैठक चीन के शियामेन शहर में होगी.

आपको बता दें कि अपने 15 पेज के बयान में चीन ने भारत को बिना किसी शर्त के अपनी सेना को डोकलाम से हटाने को कहा है. चीन ने आरोप लगाया है कि भारत भूटान को एक बहाने के तौर पर ही इस्तेमाल कर रहा है, अगर चीन और भूटान के बीच में कोई विवाद है, तो दोनों देशों के बीच ही रहना चाहिए. भारत का इसमें कोई रोल नहीं है.

#aonenewstv[editedby: मुकेश उपाध्याय]

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf