अगर आप भी है नेचर लवर तो मिस मत कीजिएं इन जगहों पर जाना

113

नई दिल्ली- यूं तो देश के उत्तर-पूर्व के सभी 7 राज्य अपने-आप में बेहद खूबसूरत हैं, लेकिन प्रकृति प्रेमियों के लिए मेघालय घूमना शानदार विकल्प हो सकता है. शिलांग और चेरापूंजी जाने के लिए आपको गुवाहाटी तक ट्रेन या फ्लाइट से जाना होगा, क्योंकि शिलांग और चेरापूंजी तक ना ट्रेन जाती है और ना ही फ्लाइट. गुवाहाटी से शिलांग के लिए लगातार साधन उपलब्ध रहते हैं इसलिए आसानी से वहां पहुंचा जा सकता है. इन तीनों शहरों में सैर-सपाटे के लिए तमाम जगह हैं, लेकिन हम आपको ऐसी 10 जगहों के बारे में बताएंगे जिनकी खूबसूरती आप कभी भूल नहीं पाएंगे…

नॉहकलिकई (Nohkalikai) फॉलः चेरापूंजी से करीब 7 किमी दूर स्थि‍त नॉहकलिकई फॉल भारत का 5वां सबसे ऊंचा वॉटर फॉल है. इस वॉटरफॉल के पीछे एक कहानी है. कहते हैं कि का लिकई नाम की एक महिला थी, जिसने अपने पहले पति की मौत के बाद दूसरी शादी की. पहले पति से उसकी एक बेटी थी. का लिकई अपनी बेटी से बहुत प्यार करती थी और दूसरे पति को यह पसंद नहीं था. एक दिन लिकई किसी काम से बाहर गई थी और दूसरे पति ने उसकी बेटी की हत्या कर उसके टुकड़े को भोजन में डालकर पका दिया. लिकई लौटी तो उसे घर में बेटी की उंगली मिली, जिससे पूरा मामला खुला. बताया जाता है कि इसके बाद लिकई ने इसी वॉटरफॉल से कूदकर जान दे दी, जिसके बाद वॉटरफॉल का नाम नॉहकलिकई फॉल पड़ गया. खासी भाषा में नॉह का मतलब कूदना होता है.

कामाख्या देवी मंदिरः असम की राजधानी गुवाहाटी में स्थित मां कामाख्या देवी का मंदिर निलाचल पहाड़ियों पर है. कामाख्या देवी का मंदिर 51 शक्ति पीठों में शुमार है. पौराणिक सत्य है कि अम्बूवाची पर्व के दौरान मां भगवती रजस्वला होती हैं और मां भगवती की गर्भ गृह स्थित महामुद्रा (योनि-तीर्थ) से निरंतर तीन दिनों तक जल-प्रवाह के स्थान से रक्त प्रवाहित होता है.

चेरापूंजी में घूमने के लिए सेवन सिस्टर्स, मौसमाई केव, इको पार्क जैसी खूबसूरत स्थान हैं. इन जगहों पर जाते समय सड़क किनारे छोटी-छोटी दुकानें होती हैं. स्थानीय लोग लकड़ी के छोटे-छोटे सामान, खाने के लिए मैगी, चिप्स, नमकीन के अलावा कोल्डड्रिंक बेचते नजर आते हैं. इन दुकानों पर आपको चाय भी मिल सकती है. आप जब भी चेरापूंजी जाएं इन नुक्कड़ों पर जरूर रुकें और खुले आसमान के नीचे कुछ खाने-पीने का आनंद उठाएं.

#Aonenewstv. Edited by. Sakshi Verma

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Themetf